ज्योतिष शास्त्र में हमारे भाभिष्य को जानने के लिए बहुत सारे शास्त्र उपलब्ध है,लेकिन सबसे सरल शास्त्रों में सबसे उत्तम शास्त्र अंक शास्त्र है ऐसा माना जाता है इसलिए आज हम जान लेते है की मूलांक कैसे निकलते है और मूलांक क्या है इसका हमारे ऊपर प्रभाव क्या होता है चलिए देखते है

जिनका जन्म किसी भी महीने के 1 से 9 दिनांक के मध्य हुआ है उनका मूलांक ऐसे निकालते है 

  1. सबसे पहले किसी कागज पर अपना जन्म तिथि लिख लीजिये

उदाहरण:मेरा जन्म 01/05/1994 में हुआ है

2.अब आप इसमे से महिना और सन हटा  दीजिये

उदहारण:01/05/1994 में से महिना और सन हटाने से केवल 01 मिलता है

3.अब आपका मूलांक आपको मिल जायेगा आपका मूलांक 1 होगा

नोट:अगर आपका जन्म किसी भी मास(month) के 1 se 9 दिनांक के बीच में हुआ है तो आपका मूलांक आपका जन्म दिनांक  होगा,अच्छी तरह से समझने के लिए नीचे का चार्ट जरुर देखिये, अब आपको यह पता हो चूका है की आपका मूलांक क्या है

 

जन्म किसी भी महीने के 1 से 9 दिनांक के मध्य हुआ है उनका मूलांक कुछ इस तरह से है 

चार्ट देखिये

 किसी भी महीने के 1 से 9 दिनांक में

किसी भी महीने के दिनांक को मूलांक 
1 दिनांक को1 ही रहेगा
2 दिनांक को2 ही रहेगा
3दिनांक को3 ही रहेगा
4दिनांक को4 ही रहेगा
5दिनांक को5 ही रहेगा
6दिनांक को6 ही रहेगा
7दिनांक को7 ही रहेगा
8 दिनांक को8 ही रहेगा
9 दिनांक को9 ही रहेगा

संयुक्त जन्म तिथि के लोगो का  मूलांक कैसे निकालते है?

1.सबसे पहले आपको अपने जन्म की तारीख एक कागज़ पर लिख लेनी है

उदाहरण: मेरा जन्म 24/10/1994 में हुआ तो मैंने इसको ऐसे ही एक सादे कागज़ पर लिख लिया

2.अब आपको अपने जन्मतिथि से आपके जन्म का महिना और जन्म का सन हटा देना है है

उदाहरण:24/10/1994 में से जन्म महिना और जन्म का सन हटा देता है और हमारे पास अब केवल 24 बचता है

3.अब आपको 24 को दो हिस्सों में करके जोड़ देना है

उदाहरण:2+4=6 यानि की आपका मूलांक 6 होगा क्योंकि जब हमने 24 को अलग करके फिर जोड़ा तो सिर्फ एक संख्या 6 मिला इसलिए ये आपका मुलांका हुआ

तो ये थी उन लोगो का मूलांक जिनका जन्म संयुक्त तिथि में हुआ है ये रहा चार्ट जिसमे आप अच्छे से समझ जायेंगे

ये देखिये 10 से 31 वालो का मूलांक

आपका जन्म दिनांक आपका मूलांक 
10 को1
11 को2
12 को3
13 को4
14 को5
15 को6
17 को8
18 को9
19को10 —1+०=1 यानि एक मूलांक
20को2
21को3
22को4
23को5
24 को6
25 को7
26 को8
27 को9
28 को10===1+०=1 यानि एक मूलांक होगा
29 को11===1+1=2 यानि दो मूलांक होगा
30 को30===3+0=3 यानि तीन मूलांक होगा
31 को4

 

मूलांक का हमारे जीवन पर प्रभाव क्या पड़ते है?

हमारे जीवन पर मूलांक का बहुत ही बड़ा प्रभाव पड़ता है,हम मूलांक के जरिये किसी भी व्यक्ति का भाभिष्य अच्छी तरह से बता सकते है,

  • मूलांक क्या है:हम उसके चरित्र के बारे में जान सकते है
  • मूलांक क्या है:हम उसके भाग्य के बारे में जान सकते है
  • मूलांक क्या है:हम उसके पसंद के बारे में जान सकते है
  • मूलांक क्या है:हम ये जान सकते है की अमुक अंक वाले व्यक्ति के लिए कौन सा दिन सही रहेगा
  • मूलांक क्या है:हम ये जान सकते है की अमुक अंक वाले व्यक्ति के लिए कौन से रंग भाग्यशाली रहेंगे
  • मूलांक क्या है:हम ये जान सकते है की अमुक अंक वाले व्यक्ति के लिए कौन से दिनांक अच्छे रहेंगे
  • मूलांक क्या है:हम ये जान  सकते है की अमुक अंक वाले व्यक्ति के लिए कौन से रत्न अच्छे रहेंगे
  • मूलांक क्या है:हम ये जान  सकते है की अमुक अंक वाले व्यक्ति के लिए कौन से अंक वाले मित्र अच्छे रहेंगे

अंको के माध्यम से हम और भी बहुत सारी जानकारी एकत्रित कर सकते है जो सिर्फ किसी व्यक्ति के जन्म के अंक के बारे में जानकर बताया जा सकता है

अगर आपको इस पोस्ट के बारे में कोई जानकारी चाहिए तो आप कमेंट कर सकते है ,आपको यह पोस्ट अच्छी लगी है तो शेयर जरुर करे और हमारे लिंक को ज्यादा से ज्यादा अपने दोस्तों को बताये

धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here